Bina token number jaati Mool seeding in JanAadhaar | पुराने जाति मूल की सीडिंग जन आधार कार्ड में

आज हम जानेंगे कि हम अपने पुराने जाति प्रमाण पत्र और पुराने मूल निवास को जन आधार कार्ड में कैसे लिंक करें अर्थात जन आधार कार्ड में उनकी सीडिंग कैसे करें जबकि उनके ऊपर कोई भी टोकन नंबर नहीं दिया हुआ है

अगर आपके पास भी आपका पुराना जाति प्रमाण पत्र है या फिर पुराना मूल निवास है जिसके ऊपर टोकन नंबर नहीं दिए हुए हैं तो उसको आप अपने जन आधार कार्ड में कैसे लिंक कर सकते हैं चलिए आज के ब्लॉग में कंप्लीट डिटेल में जानते हैं

Bina token number jaati Mool seeding in JanAadhaar
Bina token number jaati Mool seeding in JanAadhaar

तो सबसे पहले तो मैं यहां पर आपको बता दूं कि जाति प्रमाण पत्र या फिर जो मूल निवास ऑफलाइन बने हुए हैं उनकी बात हम इस ब्लॉग में नहीं कर रहे हैं हम उन मूल निवास जाती प्रमाण पत्र कि बात कर रहे हैं ऑनलाइन बने हैं लेकिन काफी पुराने है उनके ऊपर कोई भी टोकन नम्बर नहीं है

Bina token number jaati Mool seeding in JanAadhaar

तो अब जानते है कि आप बिना टोकन नम्बर के पुराने जाती व मूल निवास को जन आधार कार्ड में किस प्रकार लिंक कर सकते है यह बहुत ही आसान सा तरीका है

Bina token number jaati, Mool seeding in JanAadhaar
Bina token number jaati, Mool seeding in JanAadhaar

यदि किसी जाती व मूल पर टोकन नम्बर नही है तो ध्यान से देखिये उनके ऊपर निचे कि तरफ एक बार कोड दिया हुआ होता है जेसा कि उपर फोटो में दर्शाया गया है जिन मूल निवास और जाति प्रमाण पत्र के ऊपर टोकन नंबर आपको नहीं मिल रहे उनके ऊपर आपको यह बारकोड देखना है इस बार कोड के नीचे एक संख्या लिखी हुई होती है वह संख्या आपको टोकन नंबर में दर्द करनी है

अर्थात उस मूल निवास या उस जाति प्रमाण पत्र का टोकन नंबर वही है उस बारकोड के नीचे आपको एक संख्या मिलेगी वह संख्या आप टोकन नम्बर के रूप में दर्द कर दीजिए उसके बाद उसे जाति प्रमाण पत्र कि साडी जानकारी दिखाई देने लग जायेगी इस प्रोसेस से आप बहुत ही आसानी से जाती प्रमाण पत्र या मूल निवास को जन आधार कार्ड में लिंक कर सकते है

यदि आपके जाती या मूल में बारकोड के निचे कोई नम्बर दिखाई न देवे तो ?

यदि आपके जाति प्रमाण पत्र पर बारकोड नहीं मिलता है और उसके ऊपर इस तरह की संख्या दिखाई नहीं देती है तो आपको दूसरा वाला बारकोड दिखाई देगा जेसा कि निचे फोटो में दर्शाया गया है

abc12
Screenshot 3

अभी इस बार कोड को आप बहुत ही आसानी से अपने मोबाइल की किसी भी क्यूआर कोड स्कैन एप्लीकेशन से स्कैन कर सकते हैं और जैसे ही आप इस क्यूआर कोड को स्कैन करेंगे आपको वहां पर इसके टोकन नंबर मिल जाएंगे यानी कि जिस भी जाति प्रमाण पत्र मूल निवास का यह क्यूआर कोड स्कैन करेंगे आपको वहां पर टोकन नंबर देखने को मिल जाएंगे

क्यूआर कोड स्कैन करने के लिए बहुत सारी एप्लीकेशन प्ले स्टोर पर उपलब्ध हैं और इस तरह से स्कॉलरशिप के फॉर्म में आ रही प्रॉब्लम का समाधान कर सकते हैं उम्मीद करता हूं अब आपको कंप्लीट जानकारी समझ में आ गई होगी कि पुराने जाति प्रमाण पत्र और मूल निवास को जन आधार कार्ड में कैसे लिंक करना है अगर आपको जानकारी पसंद आई है तो हमारे ब्लॉग को शेयर जरुर करें व यदि आपको कोई समस्या आ रही है तो हमे कमेंट में जरुर बतावे

Sharing Is Caring:

3 thoughts on “Bina token number jaati Mool seeding in JanAadhaar | पुराने जाति मूल की सीडिंग जन आधार कार्ड में”

  1. मूल निवास और जाति प्रमाण पत्र नए बनवाए फिर भी डॉक्यूमेट अपलोड ऑप्शन नही आ रहा है।

    Reply

Leave a Comment